Most Google Algorithms 7 updates in SEO 2018

Most Google Algorithms 7 update in SEO?

अगर आपकी कोई वेबसाइट हैं,या आपकी कोई SEO कंपनी हैं तो आपको Google Algorithms kaise kaam karta hai, वो पता होना चाहिए, ताकि आप उनको फोलो करके सही तरह से अपनी साइट को गूगल सचॅ मैं रैक करवा पाए।

Google में आये दिन कुछ ना कुछ update आता ही रहेता हैं। उसमें से most 7 big google algorithms update के बारे में जानेगें, इस पोस्ट में, जो आपको जानना जरूरी हैं।

• Google Panda
• Google Penguin
• Google Pigeon
• Google Hemmingbird
• Google Payday Loan
• Google Mobile friendly update
• Google Fred

1: Google Panda ?
इस अपडेट ने बहुत सी ऐसी टोप रैक की साइट को इनफेट किया था। जितनी भी ऐसी वेबसाइट थी जिनकी Quality अच्छी नहीं थी उनकी रैक डाउन कर दी गई थी। जो High quality content था उनकी रैक हाई हो गई थी इस अपडेट आने के बाद.

Google Panda मैं क्या हुआ था।

Thin content : जितने भी पेज जिसमें जो content था उससे यूजर को कोई value नहीं मिलती, उन सब को डाउन कर दिया था. जैसे यूजर ने कोई Question Search किया है तो उसका सही तरीके से जिस पेज पर answer होगा, वो पेज टोप पे दिखाया जाता हैं।

Low Quality Content : जो content है अगर उसकी quality अच्छी नहीं है, जैसे सही formate ना होना, spelling mistakes होना, page की नेगिवेशन सही ना होना, फोकट की ईमैज होना, जैसे कुछ भी जिससे यूजर को परेशानी हो।

Unhelpful Content : ऐसा कुछ भी content जो यूजर के बिलकुल काम का नहीं, उसको Google allow नहीं करता सचॅ में…

Duplicate Text : अगर एक से ज्यादा Page Same ही Text के है तो Google उसको डूप्लीकेट Content समझता है, और ऐसे में अगर सभी Page Same हैं तो Panda ? update Site पर एक्शन लिया जाता है।

Article Spinning : डूप्लीकेट Content से बचने के चक्कर में, आटिॅकल को थोडा सा हेरफेर करके डबल से शेर करने की कोशिश की, Google Panda update में इन पर भी एक्शन लिया जाता है।

Google Panda se Recover kaise kare.

अगर आपको लगता है, आपकी साइट पर उपर दिये गये Points में से कुछ है, जिसके कारण Google Panda का एक्शन आपकी साइट पर लिया गया है तो अब….
आपको अपनी साइट का जितना भी ऐसा content हैं जो सही नही है उसको आपको डिलीट करना होगा और अगर कुछ ऐसा content हे जिसकी Quality Low हैं तो उनको Edit करके सही करना पड़ेगा।

2: Google Penguin ?

ये google का second बडा algorithm update है, जो लगभग Panda update की तरह ही हैं, पर इसमें साइट की लिंक प्रोफ़ाइल भी देखी गयी… इस type की backlinks का फायदा हुआ था।

• जो लिंक किसी content के page से आ रहा हैं।
• जो लिंक से उससे related content उस page पर हो
• ज्यादा से लिंक आ रहा है वो trusted होता है
• अलग अलग साइट से लिंक आ रहा है

इसके अलावा जितने भी ऐसी लिंक जो अच्छी साइट से नहीं थे जहां ऐसी साइट से आ रहे थे जिसका content साइट से match नहीं करता तो उसका नेगेटिव असर पडा था साइट पर….
अगर आपको penguin से बचना है तो आपको High Quality backlinks hi banaye

किसको effect करता है Google Penguin.

Buying Links: अगर लिंक कही से खरीदते हैं तो यह google webmaster guidelines का उलंघन करता है कही से भी पैसे दे कर लिंक नहीं ले सकते…
अलग अलग Anchor Text की कमी : text में जो लिंक add करते हैं, उसको anchor text कहते हैं, तो अगर इतनी भी लिंक आ रहा है अगर वो same anchor text से आ रही है तो उससे rank पर असर पडता हैं.

Low Quality Links : अगर कही से भी लिंक आ रहा है, पर उसका भी content Quality low हैं तो इसका भी नेगेटिव असर साइट पर पडता हैं…

Keyword Stuffing : जिस keyword को टागॅट करके Content लिखा जा रहा है, अगर वो वारंवर use किया जाये, जिसका कोई कुछ मतलभ ना हो तो वो keyword stuffing कहलाता हैं।
पहले ये बहुत चलता था, की किसी keyword पर रैक करवाना है तो वही keyword वारंवार लिख दो, पर इस अपडेट में उनको पेनालिझ कर दिया गया

Google Penguin se Recover kaise kare.

इसमें जितना भी bad effect है इसका कारण है Bad backlinks, तो अगर इसको थीक करना है तो जितने भी low quality links है उसको रिमूव करना पड़ेगा।
Low Quality backlinks kya hai उसकी जानकारी आपको यहां मिल ही जायेगी, जिनको पता करके आप Google Search Console में Disavow कर सकते हो।

3: Google Pigeon ?

इस अपडेट ने सबसे ज्यादा इनफेट किया Local Business site को, कयूकि अगर कोई कुछ सचॅ कर रहा है तो उसकी Location के हिसाब से उसका Results शो होता है, मतलब अगर आपको आपकी वेबसाइट किसी Specific location पर रैक करानी हैं तो आपकी वेबसाइट में उस तरह का content होना चाहिए, जिससे गूगल को समझ में आ सके की किस जगह से रीलेटेड करती हैं।

इस अपडेट का main मकसद ये है कि यूजर को ऐसी information दी जाये जो उनके ज्यादा काम की है, जैसे अगर कोई “होटेल बुकिंग” Search कर रहा है, तो उनको उनकी Location के हिसाब से उस सिटी जो भी होटल हैं वो results में दिखायेगी।

अगर आपको अपनी वेबसाइट Local Area में रैक करवाना है तो आपको उन सभी बातों का ध्यान रखना पड़ता हैं।

  • Content में image, Text और Video Add करे जो Specific उस Location के बारे में हो…
  • Google Business में अपने बिजनेस को लिस्ट करे
  • वेबसाइट में Name, Address, phone नंबर add करे
  • Business पर Positive reviews करे।

4: Google Hummingbird ?

Hummingbird से तो जैसे एक नया दौर ही आ गया हो जिसमें Search को improve करने पर focus करा गया हैं।

यूजर क्या search कर रहा है और वो किस तरह का answer चाहता हैं उसको समझने के बाद उसको results दिखाया जाता है

मतलब अगर मान लो की अलग अलग इंसान हैं और वो same words search कर रहा है फिर भी हो सकता है, उनको अलग अलग results दिखाये, उनके interest के हिसाब से….

अगर आप कोई content लिख रहा है तो इस बात को अच्छे से research कर ले कि आप जो content लिखा रहे हो उनको कौन read करेंगें और वो किसी तरह read करने को पसंद करेंगे … कयूकि अगर यूजर आपके content को नहीं पसंद करेगा तो आपकी वेबसाइट को भी रैक करवाना में problem आती हैं।

इस लिए आपको google पर ही search करके पता कर सकते हैं की लोग किस type के search करते हैं और क्या जानना चाहते हैं।

Google में type करने पर ओटोमेटिक आगे के शब्द आ जाते हैं उससे आप पता कर सकते हैं कि लोग किस type के search करते हैं और जो Search Page में niche raleted search आती है, उनसे भी आईडिया ले सकते हो।

5: Google PayDay Loan 

Payday loan में कुछ चीजे common है Google Panda और Google Penguin से, पर उसमें confuse ना हो… ये एक अलग अपडेट हैं कयुकि जो 2013 में आया था जिसका main मकसद था ऐसी साइट को penalize करना जो porn, casino या फिर virus वाली हो

इस अपडेट में अगर किसी ऐसी साइट से लिंक आ रही है जो सही नही है तो उन साइट भी bad effect पड़ेगा।

Payday Loan को recover kaise Kare. 

वैसे इस अपडेट में क्या हुआ था अगर आपको वो समझ आ गया तो वो कैसे ठीक होगा वो भी आप समझ गये होगे Simple आपको अपने यूजर को velue देनी होगी और अगर कुछ Black hat Seo करते हैं जैसे spam links तो उनको clean करना होगा ।

6: Google Mobile Friendly Update ? 

ये तो आपको name से ही समझ आ गया होगा, इस अपडेट में google ने उन साइट की रैक डाउन कर दी थी जो मोबाइल में अच्छी से ओपेन नहीं होती….

अभी के टाइम में ज्यादातर 80% लोग मोबाइल से ही इंटरनेट पर Search करते हैं , तो उनकी सुविधा के लिए google ने उन साइट को टोप रैक दी जो mobile friendly हैं ताकि यूजर को चलाने में आसानी हो…

mobile friendly update में ये होना चाहिए Site me….

Responsive design : website में design ऐसा होना चाहिए जो किसी भी डिवाइस में वेबसाइट को open करे, वो उसमें फिर हो जाये और use करने में आसान हो.

आप कुछ यहां से Mobile Friendly Template Download कर सकते हो।

Large Font : website का font भी थोडा बडा हो ताकि यूजर को read करने में परेशानी ना हो mobile screen पर 

Unsupported Content : website में कुछ भी ऐसा content ना हो जो मोबाइल में support ना करता हो जैसे flash file Mobile में ओपेन नहीं होती है तो ऐसी साइट की रैक डाउन हो जाती है।

No Separate Website : वैसे अभी के टाइम में तो कोई use नहीं करते, पहले मोबाइल में ठीक से ओपेन हो उसके लिए अलग से sub Domain में साइट बनाते हैं जैसे htttp://tech4guru.com computer में ओपेन होती है और अगर मोबाइल में open करे तो m. tech4guru.com पर इससे भी रैक में गिरावट हो जाती है। 

Website Speed : website की speed एक बहुत बढिया important factor हैं, google ने एक servey किया था उसमें पता चला कि अगर कोई वेबसाइट 3 second से ज्यादा में load होती है तो उनकी traffic 50% कम हो जाती है। 

Optimize image : website में फोटो use करना बहुत जरूरी है, पर उसको सही साइज और compress नहीं किया जाये तो इससे साइट पर बहुत सी problem होती हैं… जैसे loading time बढना, या image का सही से open ना होना इसलिए हंमेशा image को optimize करके ही use करे.. 

Website element के बीच में gap : website में जितना भी content हैं, या किस area में क्या है वो clear होना चाहिए… अगर समझ नहीं आ रहा है की कहा क्या है और वेबसाइट को access करने में दिक्कत होती है तो उन साइट को पेनालिज किया जाता हैं।

 

7: Google Fred 

Fred दूसरे update की तरह नहीं है, google में रोज के छोटे मोटे अपडेट होते हैं उन सब को मिला कर इसको ये नाम दिया गया

इस अपडेट से सभी वेबसाइट effect हुयी थी, जो माचॅ 2017 में आया था अगर आपकी वेबसाइट इससे पुरानी है तो आपने भी देखा होगा कि अचानक वेबसाइट का traffic कम हो गया था

इसमें fix पता नहीं चला कि किसको टागॅट करके ये अपडेट किया, पर बहुत से  webmaster ने वेबसाइट को analysis किया तो कुछ डेटा सामने आया कि इन वेबसाइट को टागॅट  किया गया Fred अपडेट में.

Advertisement : जिन site पर बहुत ज्यादा ads है, या ऐसे ad थे जो यूजर के लिए सही ना हो उन वेबसाइट को इस अपडेट से effect हुआ था 

Thin, Low – Value – Content : जितनी भी साइट थी, जिस पर जो content हैं वो Low Quality या Useful नहीं है, उनकी भी रैक डाउन कर दी गई.

ख़राब User Experience : जिस website को use करने में परेशानी होती है उनको इस अपडेट में बहुत ही असर पडा था traffic में….. 

 

At Last :

आपने इस पोस्ट को पूरा पढे हैं तो आपको सब कुछ पता चल गया होगा कि Google Algorithm में  क्या क्या बडे  update आये हैं  और उन से Site पर क्या असर पडता है और अगर कोई website penalize हुयी है तो वो कैसे ठीक करेंगे ये सब आपको इस पोस्ट में बताया हूँ

अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी हैं तो आप जरूर इस पोस्ट को शेयर करे और आपके दिमाग मे कोई सवाल है तो आप मुजको पूछ सकते हैं

 

 

 

 

 

 

admin Administrator
Namaskar dosto Mera naam Pravin Kumar hai. Mai HSC (Higher Secondary Education Board) kiya hu. Or meri Age 21 Year hai. Mai India ke गुजरात के छोटे से शहर महेसाना से हूँ। Mai blogging ki start 2016 me ki thi or is ke baad me Job kar raha hu. Fir Maine blogging start kiya hua hai or online janakari Hindi me share karta hu. Me chahta hu ki logo ko online janakari Hindi me mile or Apna online business start kar sake jo log blogging or online janakari / internet janakari Lena chahte hai to unke liye achha hai. Oye apun ko step by step follow kar sakte Ho. Web Developer, Digital Marketing, Blogging Tips, Business Start planning Tech4guru – Hindi Me Help

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *