महात्मा गांधी जयंती पर शायरी – mahatma gandhi jayanti shayari in hindi

0
Mahatma Gandhi Jaynti Par Kavita In Hindi

महात्मा गाँधी के अनमोल विचार तथा गाँधी जयंती पर शायरी, स्टेटस 2020

महात्मा गांधी वह व्यक्ति थे जिन्होंने भारत की स्वतंत्रता के लिए अंग्रेजों के खिलाफ अपने पूरे जीवन भर संघर्ष किया. उनका जीवन अपने आप में एक प्रेरणा है, इसलिए केवल उनके जन्मदिन पर यानी 2 अक्टूबर को गांधी जयंती राष्ट्रीय अवकाश के रूप में मनाई जाती है. महात्मा गांधी भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन के नेता थे जिन्होंने अहिंसा के मार्ग पर चलकर ब्रिटिश शासन के खिलाफ आवाज़ उठाई. उन्हें अपने अहिंसक विरोध के सिद्धांत के लिए अंतर्राष्ट्रीय ख्याति भी प्राप्त हुई है.

इस पोस्ट में हम आपको महात्मा गाँधी का अनमोल विचार तथा गाँधी जयंती पर शायरी, स्टेटस के बारे में बताने वालें है. जिसमे आप महात्मा गाँधी द्वारा कहीं अनमोल विचार को पढ़ सकते है तथा उसे अपने जीवन में उतारकर अपने जीवन को सफल बना सकते है. साथ ही हम आपको गाँधी जयंती पर शायरी तथा स्टेटस बताने वालें है, जिससे आप 2 अक्टूबर गाँधी जयंती के दिन अपने परिवार, दोस्त तथा सोशल मीडिया इत्यादि के साथ शेयर कर सकते है तो चलिए शुरू करते है.

महात्मा गाँधी का अनमोल विचार (Precious thoughts of Mahatma Gandhi In Hindi)

1. जब मैं सूर्यास्त और चन्द्रमा के सौंदर्य की आभाशा करता हूँ, मेरी आत्मा इसके निर्माता के पूजा के लिए विस्तृत हो उठती है.

2. आपकी मान्यताएं आपके विचार बन जाती हैं, आपके विचार आपके शब्द बन जाते हैं, आपके शब्द आपके कार्य बन जाते हैं, आपके कार्य आपकी आदत बन जाते हैं, आपकी आदतें आपके मूल्य बन जाती हैं, आपके मूल्य आपकी नीयती बन जाते हैं।

3. हो सकता है कि हम खाकर गिर पड़ें पर हम उठ सकते हैं; लड़ाई से चलने से तो बहुत अच्छे ही हैं

4. एक अच्छे इंसान हर सजीव का दोस्त होता है

  1. 5. किसी देश की संस्कृति लोगों के दिलों में और आत्मा में निवास करती है।

6. ख़ुशी तब मिलेगी जब आप जो सोचते हैं, जो कहते हैं और जो करते हैं, सामंजस्य में हैं।

7. एक विनम्र तरीके से, आप दुनिया को हिला सकते हैं।

8. इस तरह जियो के तुम कल मरने वाले हो और ऐसे सीखो जैसे तुम हमेशा जीने वाले हो

9. क्या धर्म इतना सरल वस्तु है जैसे कपड़े, जिसे एक आदमी बदल सकता है अपनी इच्छा के अनुसार और इच्छा अनुसार पहन सकता है? धर्म ऐसा है जिसके लिए लोग पूरी तरह से पूरी उम्र जीते हैं।

10. धर्म जीवन की तुलना में अधिक है। याद करें कि उसका अपना धर्म ही परम सत्य है हर मनुष्य के लिए भले ही दार्शनिक मान्यताओं के माप में किसी नीचे स्तर पर हो।

11. पहले उसने आप पर ध्यान नहीं दिया, फिर आप हंसेंगे, फिर लड़ेंगे और फिर आप जीतेंगे

12. व्यक्ति की पहचान उसके कपड़ों से नहीं उसके चरित्र से होती है

13. आप जो भी करते हैं वह कम महत्वपूर्ण हो सकता है, लेकिन सबसे महत्वपूर्ण यह है कि आप कुछ करें

14. जो समय बचाते हैं, वे धन बचाते हैं और लगभग हुआ धन, कमाए हुए धन के बराबर होता है

15. लम्बे-लम्बे भाषणों से कहीं अधिक मूल्यवान है इंच भर कदम बढ़ाना

16. आपको खुद में ऐसे बदलाव करने चाहिए जैसे आप दुनिया के बारे में सोचते हैं

17. हर रात जब मैं सोने जाता हूँ, तब मर जाता है हू और अगले सुबह जब मैं उठता हूँ, मेरा पुनर्जन्म होता है।

18. आप मेरे शरीर को नष्ट कर सकते हैं, मुझे जंजीरों में जकड सकते हैं लेकिन मेरे विचारो को कैद नहीं कर सकते.

19. कुछ लोग सफलता के सिर्फ सपने देखते हैं जबकि कुछ लोग कड़ी मेहनत करते हैं और सफलता को हासिल करते हैं।

20. अपने आपको पाने का सबसे अच्छा तरीका यही है कि अपने आपको दूसरों के सेवा में खो दो।

21. पुस्तकोंको का मूल्य रत्नों से भी कही अधिक होता है, क्योकि पुस्तकें भविष्य को उज्ज्वल करती है।

22. कुछ करना है, प्यार से करें या फिर ना करें

23. किसी भी राष्ट्र की महानता उस राष्ट्र के मवेशियों के प्रति प्रेम और व्यवहार्हार से पता चलता है।

24. मनुष्य अपने विचारों से निर्मित एक प्राणी है, वह जो सोचता है वही बन जाता है।

25. एक आदमी या औरत की लाचारी पर निर्भर करता है कि नैतिकता की सिफारिश करने के लिए काफी नहीं है। नैतिकता हमारे दिल की शुद्धता में निहित है।

26. जिस दिन प्रेम की शक्ति, शक्ति के प्रति प्रेम पर हावी हो जायेगी, दुनिया में अमन आ जाएगा।

27. अच्छा आदमी सभी जीवित चीजों का दोस्त है।

28. सत्य हर इंसान के दिल में रहता है, और किसी को वहाँ खोजना पड़ता है, और सत्य के द्वारा निर्देशित किया जाता है क्योंकि कोई भी इसे देखता है। लेकिन किसी को भी सच्चाई के अपने दृष्टिकोण के अनुसार दूसरों को करने के लिए मजबूर करने का अधिकार नहीं है।

29. जहां प्रेम है, वहां जीवन है।

30. मनुष्य अक्सर वह बन जाता है जो वह स्वयं मानता है। अगर मैं खुद से कहता हूं कि मैं एक निश्चित बात नहीं कर सकता, तो यह संभव है कि मैं इसे करने में असमर्थ होकर समाप्त हो जाऊं। इसके विपरीत, अगर मुझे विश्वास है कि मैं यह कर सकता हूं, तो निश्चित रूप से मुझे यह करने की क्षमता हासिल होगी, भले ही मुझे शुरुआत में न हो।

31. भूल करने में पाप तो है ही, लेकिन उसे छुपाना उससे भी बड़ा पाप है

32. अक्लमंद काम करने से पहले सोचता है और मूर्ख काम करने के बाद

33. पैसा अपने-आप में बुरा नहीं है, उसके गलत उपयोग में ही बुराई है. किसी ना किसी रूप में पैसे की जरुरत हमेशा रहेगी

34. कुछ लोग सफलता के सपने देखते हैं जबकि कुछ लोग जागते हैं और कड़ी मेहनत करते हैं|

35. परमेश्वर सत्य है; यह कहने के बजाय ‘सत्य ही परमेश्वर है’ यह कहना अधिक उपयुक्त है|

36. आपको इंसानियत  में विश्वास नहीं खोना चाहिए। इंसानियत  महासागर की तरह है;  महासागर की कुछ बूंदें गन्दी हो जाने से पूरा महासागर  गंदा नहीं हो जाता है।

37. आपके विश्वास आपके विचार बनते हैं, आपके विचार आपके शब्द बन जाते हैं, आपके शब्द आपके कार्य बन जाते हैं, आपके कार्य आपकी आदतें बनती हैं, आपकी आदतें आपके मूल्य बन जाती हैं, आपके मूल्य आपके भाग्य बन जाते हैं।

38. मध्य दुनिया की परेशानी समाप्त हो जाएगी जब हम “क्या हम करना चाहते हैं” और “हम क्या कर सकते हैं” के बीच का मामला जान लेंगे…।

39. मेरा जीवन ही मेरा संदेश हैं

40. एक देश की माहनता और नैतिक प्रगति को इस बात से आंका जा सकता है, की वहा जानवरों से कैसे व्यवहार किया जाता है.

41. चलिए सुबह का पहला काम ये करें की इस दिन के लिए संकल्प करे की में दुनिया में किसी से डर नहीं सकता | | केवल भगवान से डरु | न किसी के प्रति बुरा भाव न रखु | झुक किसी भी अन्याय के सामना ना झुकू | में असत्य को सत्य से जितुं, असत्य का विरोध करते हुए, में सभी कष्टों को सह सकुमन|

42. दुनिया में ऐसे लोग है | जो इतने भूखे है, कि भगवान उन्हें किसी और के रूप में नहीं दिख सकते हैं सिवाय रोटी के रूप में

43. निरंतर विकास जीवन का नियम है | जो व्यक्ति खुद को सही दिखने के लिए हमेशा अपनी रुडीवादिता को बरकरार रखने की कोशिश करता है, वह खुद को गलत स्थिति में पहुंचाने की कोशिश करता है।

44. गुलाब को उपदेस देने की आवश्यकता नहीं होती है | वह तो केवल अपनी खुशी बिखेरता है, उसकी खुसबू ही उसका संदेश है |

45. मै हिंसा का विरोध करता हूँ, क्योंकि जब ऐसा लगता है कि वह अच्छा कर रही है | तब वो गुडई अस्थाई होती है, और जो वो स्पष्ट करती है वो स्थाई होती है |

46. प्रार्थना मगना नहीं है | यह आत्मा की लालसा है | यह हर रोज अपनी कमजोरियों की स्वीकारोक्ति है | प्रार्थना में बिना वचनों के मन लगाने, वचन होते हुए मन ना लगाने से बेहतर है |

47. किसी के ज्ञान के बारे में सुनिश्चित होना समझदारी नहीं है। यह याद रखना स्वस्थ है कि सबसे मजबूत कमजोर हो सकता है और बुद्धिमान सबसे गलत हो सकता है।

48. हम वही बनेंगे जो हम बनने के लिए हैं।

49. महिलाओं का असली गहने उनकी चरित्र, उनकी पवित्रता है।

50. जो लोग कहते हैं कि धर्म का राजनीति से कोई लेना-देना नहीं है, वे नहीं जानते कि धर्म क्या है।

51. मैं भविष्य की भविष्यवाणी नहीं करना चाहता हूँ। मुझे वर्तमान की देखभाल करने की चिंता है। भगवान ने मुझे अगले पल पर कोई नियंत्रण नहीं दिया है।

गाँधी जयंती शायरी और स्टेटस 2020

1.दे दी हमे आज़ादी

बिना खडग बिना ढाल

साबरमती के संत

तूने कर दिया कमाल

हैप्पी गाँधी जयंती

2.रघुपति राघव राजाराम

पतित पावन सीताराम

ईश्वर अल्लाह तेरा नाम

सबको सन्मति दे भगवान

हैप्पी गाँधी जयंती

3.देश के लिए जिसने विलास को ठुकराया था,

त्याग विदेशी चरणों उन्होंने खुद ही खादी बनाई थी,

पहन के काठ की चप्पल जिसने सत्याग्रह का राग सुनाया था,

वह महापुरुष महात्मा गाँधी कहलाया था।

4.सत्य अहिंसा का रखवाला,

देशप्रेम की विरासत थी,

तन लंगोटी हाथ में लाठी,

संत महान वो गाँधी था।

5.सीधा साधा झाडू था

ना कोई अभिमान

खादी की एक धोती पहने

बापू की शान थी

हैप्पी गाँधी जयंती

6.बापू के सपनो को फिर से सजाना है

देकर लहू का कतरा इस चमन को बचाना है

बहुत जी लिया हमने आज़ादी के गानों को

अब हमें भी देशभक्ति का फ़र्ज़ निभाना है

गाँधी जयंती की हार्दिक शुभकामनाएँ

7.जिसकी सोच ने कमाल कर दिया

देश का बदल गया सूरते हाल

सबने बोली सत्य और अहिंसा की बोली

हरली में जली विदेशी वस्त्रों की होली

गाँधी जयंती की हार्दिक शुभकामनाएँ

8.जिसकी सोच ने कर दिया कमाल,

बदल दिया जिसने देश का हाल,

जिसने पढ़ाया सत्य और अहिंसा का पाठ,

वो थे हमारे गाँधी बापू महान।

9.बस जीवन में ये याद रखना,

सच और मेहनत का सदा साथ रखना,

बापू तुम्हारे साथ है हर बच्चे के पास है,

सच्चाई जहाँ वहां उनका वास है।

10.गाँधी जी थे व्यक्ति महान,

करता है हर नागरिक उनका सम्मान,

सब जानते है इन्हें बापू के नाम से,

हम मानते है इन्हें राष्ट्रपिता अदब से।

आखरी शब्द

आपने इस आर्टिकल में महात्मा गाँधी द्वारा कहीं अनमोल विचार तथा गाँधी जयंती पर शायरी और स्टेटस 2020 के बारें में बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी के बारें में पढ़ा. बापू महत्मा गाँधी अपने अनमोल से हम सभी को बहुत बड़ी प्रेरणा देते है कि तुम बैठें क्या हो, अपने लक्ष्य की प्राप्ति करों. उनकी सभी अनमोल विचार हम सभी को अपने जीवन में ढालने की जरुरत है.

आशा करता हूँ आपको महत्मा गाँधी के अनमोल विचार तथा गाँधी जयंती पर शायरी और स्टेटस पसंद आया होगा. आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे सोशल मीडिया पर अवश्य शेयर करें, जिससे हर कोई बापू द्वारा कही अनमोल बात को अपने जीवन में ढाल सकें, जिससे वह अपने लक्ष्य की प्राप्ति कर सकें. शुरू से अन्त तक इस आर्टिकल को पढने के लिए आप सभी का तहेदिल से शुक्रिया…👃 

Leave a Reply